फिल्म “The Sky Is Pink का Trailor हुआ Release, जाने इस फिल्म से सम्बंधित जानकारी

फिल्म “The Sky Is Pink का Trailor हुआ Release, जाने इस फिल्म से सम्बंधित जानकारी

द स्काई इज पिंक आने वाली एक हिंदी फिल्म है | इस फिल्म में मुख्य अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा और मुख्य अभिनेता फरहान अख्तर है, साथ ही रोहित सरफ और जायरा वसीम भी इस फिल्म में नज़र आयेंगे |

यह फिल्म मोटिवेशनल स्पीकर आयशा चौधरी के जिंदगी की सच्ची कहानी पर आधारित है | जिनको पल्मोनरी फाइब्रोसिस की बीमारी होती है और युवा अवस्था में ही मर जाती है |

इस फिल्म की निर्देशक सोनाली बोस है | द स्काई इज पिंक की Trailor कल सुबह रिलीज हो चुकी है | सिनेमाघरों में यह फिल्म 11 अक्टूबर 2019 को रिलीज होगी और ना केवल भारत में बल्कि यह 125 देशों के सिनेमाघरों में रिलीज होगी |

द स्काई इज पिंक फिल्म रोमांस, इमोशन , फैमिली लव और उम्मीद पर आधारित है | इस फिल्म में प्रियंका, अदिति चौधरी की भूमिका में और फरहान नीरेश चौधरी की भूमिका में दोनों पति-पत्नी बने है |

3 साल के बाद प्रियंका बॉलीवुड में वापस आयी है | जिससे उनके fans बहुत खुश हैं | इस फिल्म को लेकर प्रियंका बहुत उत्शुक है साथ ही इस फिल्म का हिस्सा बन कर खुश है |

क्यों आयशा चौधरी प्रसिद्ध है ?

आयशा चौधरी एक युवा लेखक और मोटिवेशनल स्पीकर थी | जो अपने बहुत सारे मोटिवेशन से लोगों को प्रेरित करती थी | उन्होंने My Little Epiphanies किताब लिखी थी | जो उनके मरने के 1 दिन पहले रिलीज हुई थी | इनका जन्म 27 मार्च 1996 को दिल्ली में हुआ था, जन्म से ही इन्हें गंभीर जानलेवा बीमारी पलमोनरी फाइब्रोसिस हो गई , इसी कारण इनकी मृत्यु केवल 18 साल की उम्र में हो गई थी |

आयशा चौधरी खुद अपने कार्य को करने में असमर्थ थी | किंतु वह एक अच्छी मोटिवेशनल स्पीकर थी | इनको अपना कार्य करने में किसी की मदद की जरूरत पड़ती थी |वह धीरे-धीरे काम करती थी | और दिन पर दिन उनकी हालत नाजुक होते जा रही थी किंतु वह हार नहीं मानी भले ही उनको अपने 14 साल की उम्र में स्कूल छोड़नी पड़ी थी | आयशा को अपने साथ हमेशा ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर घूमना पड़ता था क्योंकि उनकी फेफड़े में केबल 35% क्षमता थी |

भले ही आयशा आज हमारे बीच नहीं है, लेकिन उनकी बुक और उनकी मोटिवेशनल बातें आज भी हमारे बीच जिंदा है | वह अपने कार्य करने में असमर्थ थी फिर भी अपने मोटिवेशन बातों से और अपनी बुक से आज भी प्रसिद्ध है |

Ganita Yadav

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *