तेलुगु अभिनेता पवन कल्याण के जन्मदिन पर जानिए उनसे जुरी दिलचस्प बाते|

तेलुगु अभिनेता पवन कल्याण के जन्मदिन पर जानिए उनसे जुरी दिलचस्प बाते|

पवन कल्याण , तेलगु अभिनेता का जन्म 2 सितम्बर 1971 को आंध्रप्रदेश के बापतल में हुआ था |इनके पिता वेंकट कोहिदेले और माता अंजना कोहिदेले है |पवन कल्याण के बचपन का नाम कोनिदेला कल्याण बाबु है किन्तु अब ये पवन नाम से जाने जाते है |इनके दो भाई है , एक चिरंजीवी ये भी तेलगु के बड़े अभिनेताओ में से एक है ,दूसरा नागेंद्र बाबु है |पवन इन दोनों भाइयो से छोटे है |


पवन कल्याण , तेलगु अभिनेता का जन्म 2 सितम्बर 1971 को आंध्रप्रदेश के बापतल में हुआ था |इनके पिता वेंकट कोहिदेले और माता अंजना कोहिदेले है |पवन कल्याण के बचपन का नाम कोनिदेला कल्याण बाबु है किन्तु अब ये पवन नाम से जाने जाते है |इनके दो भाई है , एक चिरंजीवी ये भी तेलगु के बड़े अभिनेताओ में से एक है ,दूसरा नागेंद्र बाबु है |पवन इन दोनों भाइयो से छोटे है |

पवन कल्याण ना केवल तेलुगु के बड़े अभिनेता है बल्कि साथ ही साथ फिल्म निर्माता ,निर्देशक ,पटकथा लेखक ,लेखक ,राजनीतिज्ञ है |इनको फिल्म इंडस्ट्री में करियर बनाने में ज्यदा मुश्किलों का सामना नहीं करना परा क्योंकी भाई पहले से बड़े अभिनेता थे |

इनकी पहली फिल्म तेलुगु भाषा में 1996 को अक्क्दा अम्माई इक्काडा अब्बाई रिलीज हुई | इस फिल्म को दर्शको ने बहुत पसंद किया | यही से उनकी जीवन की सफलता शुरू हुई थी |इसके बाद इन्होने तेलुगु में लगातार हिट पर हिट फिल्म दिए |जेसे -1998 में थोली प्रेमा ,1999 में थम्मुडू, 2000 में बद्री ,2001 में कुशी ,2008 में जलसा , 2012 में गब्बर सिल |

पुरस्कार और फिल्म आवार्ड से सम्बन्धित जानका

पवन कल्याण को फिल्म ”गोपाल गोपाल ” के सहायक अभिनेता की क्रियादार के लिये 2015 में bollywood के सबसे बड़े IIFA अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था |

2013 में फिल्म अतरिन्तिकी डारेडी में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए इन्हें ”एंटरटेनमेंट अवॉर्ड” दिया गया, इनको फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिला है |

2012 में फिल्म गब्बर सिंह के सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए ”सिनेमा पुरस्कार ” से सम्मानित किया गया था |

पवन कल्याणी के हितकारी कार्य जिसके लिए इन्हें लोगो के द्वारा ज्यदा पसंद किया जाता है –

पवन कल्याणी जी ने तेलंगना और आंध्रप्रदेश में ”कॉमन मैन प्रोटक्शन फोर्स धर्मार्थ ट्रष्ट” की स्थापना की है|जिसके अंतर्गत ”आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग ” , गरीबो , ST / SC / OBC ,आरक्षित वर्गों की सहायता की जाती है |

इन्होने उत्तराखंड में बाढ से पीडितो ,बेघर होने वालो के लिए 20 लाख का फण्ड दिए थे |

टी 20 क्रिकेट टूर्नामेंट में पवन कल्याणी ने 5 लाख फण्ड दिए |

आंध्रप्रदेश के उत्तरी क्षेत्रों में चक्रवात से प्रभावित छती में मुख्यमंत्री राहत कोष में 50 लाख दान दिए थे | इतने महान काम इन्होने किया जिसके वजह कुछ ज्यदा लोकप्रिय है |

राजनीतिक जीवन की शुरुआत – पवन कल्याण 2014 से राजनीतिक में आये है और सेना पार्टी में सामिल है | google में सबसे आधिक भारतीय सेलिब्रिटी राजनीतिज्ञ के रूप में पवन कल्याण के बारे में सर्च किये जाने वालो सूचि निकली है |

पवन कल्याण ने अपनी जीवन में 3 विवाह किये है |पहली विवाह नंदिनी से जिसके साथ ये ज्यदा साल रेह नहीं सके, 1997 से 2007 तक साथ थे |दूसरी विवाह रेनू देसाई के साथ 2009 में किया पर ये भी नहीं टिका 2012 में इससे भी अलग हो गए इनसे इनके दो बच्चे है |तीसरी विवाह अन्ना लेझ्नेवा से 2013 में किया जो इनकी वर्तमान की पत्नी है इनसे भी इनके दो बच्चे है |

Ganita Yadav

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *